Khari Khari News
News हरियाणा

एसडीएम की किसानों को चेतावनी: बोलें- फायरिंग की नौबत आई तो गोली घुटनों से नीचे चलेंगी, जानें क्या है मामला

कैथल।हरियाणा के कैथल जिले में एसडीएम ने मुख्यमंत्री मनोहर लाल के कार्यक्रम का विरोध करने पर गोली चलाने की चेतावनी दी है। एसडीएम ने कहा कि अगर मुख्यमंत्री के कार्यक्रम के दौरान हालात बेकाबू होने पर फायरिंग की नौबत आई तो गोली घुटनों से नीचे ही चलेगी। इससे पहले करनाल के एसडीएम आयुष सिन्हा भी किसानों पर विवादित बयान को लेकर सुर्खियों में रहे थे।

बता दें कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल 9 अक्टूबर को महाराजा अग्रसेन जयंती पर कैथल आ रहें हैं। किसान नेताओं ने ऐलान किया है कि मुख्यमंत्री के कार्यक्रम का विरोध किया जाएगा।इसी के चलते जिला प्रशासन किसानों को मनाने के लिए थाना टोल पर पहुंचा था।

कुछ ऐसा मत करना कि हमें गोली चलानी पड़ी

जिला प्रशासन की ओर से एसडीएम संजय कुमार, डीएसपी विवेक चौधरी व जिला परिषद के सीईओ सुरेश किसानों के साथ बैठक करने पहुंचे। इस दौरान किसानों को एसडीएम ने कहा कि मैं आपको विरोध के लिए मना नहीं कर रहा हूं,आप नारे लगाए या काले झंडे दिखाए लेकिन सब शांतिपूर्ण तरीके से होना चाहिए। लेकिन कुछ ऐसा मत करना जिससे शांति व्यवस्था भंग हो। उन्होंने कहा कि शांति व्यवस्था बिगड़ती है तो दोनों तरफ से नुकसान अपना ही होगा। मैं प्रशासन और किसानों की तरफ से किसी एक को भी खोना नहीं चाहता।

जानता हूं अपनों को खोने का दर्द

किसानों को समझाते हुए एसडीएम की आंखों में आसूं आ गए। आंसू पोंछते हुए उन्होंने कहा कि आप वहां अपने बच्चों के लिए जाएंगे और मैं अपने बच्चों के लिए।बस एक बात का ध्यान रखना कि फोर्स के साथ किसी तरह का टकराव न होने पाएं।

अगर फायरिंग की नौबत आई तो गोली घुटनों से नीचे ही मारेंगे। एसडीएम की बात सुनकर किसानों ने कहा कि एसडीएम साहब पैरों में क्यूं,छाती पर मार देना।बस पीठ पर गोली मत मारना। आपकी आंखों में पानी है और हमारी आंखों में लहूं है।

जिला प्रशासन के साथ मौजूद बैठक में मौजूद किसानों ने एसडीएम को शांति बनाए रखने का आश्वासन दिया। वें सीएम को कैथल में नहीं घुसने देंगे और न ही हैलिकॉप्टर उतरने देंगे। इसके साथ ही किसानों ने कहा कि वे किसी अग्रवाल समाज के नेता का विरोध नहीं करेंगे। किसानों ने कहा कि महाराजा अग्रसेन तो समाज को बसाने वाले थे। उन्होंने एक ईंट एक रुपए का नारा देकर समाज को बसाने का काम किया था।

Related posts

हरियाणा सरकार का फैसला, प्रदेश में पटाखे रखना और बेचना अवैध एवं दंडनीय किया घोषित

kharikharinews

भाखड़ा ब्रांच में कार गिरने से मां बेटे की मौत मामले में बड़ा खुलासा, पति ने रची थी साजिश

kharikharinews

पराली जलाने वालों के खिलाफ शख्त हुआ प्रशासन, 6 गांव के सरपंच और 19 नंबरदारों को नोटिस जारी

kharikharinews

Leave a Comment