Khari Khari News
News

ये आंदोलन नहीं रहा, गदर कह सकते हैं- हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज

हरियाणा के गृहमंत्री अनिल विज ने किसान आंदोलन को लेकर बड़ा बयान दिया है। उन्होंने प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कहा कि ये अब आंदोलन नहीं रहा है, आंदोलन में लोग लाठियां लेकर नहीं आते हैं, आंदोलन में लोग रास्ता नहीं रोकते हैं, आंदोलन में लोग तलवारें लेकर नहीं आते हैं।

चंडीगढ़ में प्रेस वार्ता के दौरान गृहमंत्री अनिल विज ने किसान आंदोलन को लेकर पूरी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल की अध्यक्षता में 15 तारीख को बैठक होगी, जिसमें आगे की रुपरेखा तैयार की जाएगी।

अनिल विज ने किसान आंदोलन के एक सवाल पर कहा कि ये आंदोलन नहीं रहा है, इसको आंदोलन की बजाय गदर या फिर और शब्द कह सकते हैं लेकिन इसको आंदोलन नहीं कह सकते..
सुनिये पूरा बयान

सुप्रीम कोर्ट ने एक याचिकाकर्ता की जनहित याचिका पर सुनवाई करते हुए सोनीपत जिला प्रशासन को आदेश दिए हैं कि जनहित में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-44 पर सोनीपत के पास कुंडली-सिंघू बॉर्डर पर धरनारत किसानों से एक तरफ के मार्ग पर आम लोगों को रास्ता दिलाया जाए।

इन आदेशों की अनुपालना में सोनीपत जिला के उपायुक्त श्री ललित सिवाच ने आज सोनीपत  में किसान प्रतिनिधियों के साथ एक बैठक की, बैठक में जिला प्रशासन व पुलिस के अधिकारी भी उपस्थित थे। उपायुक्त ने किसानों को बताया कि एक याचिकाकर्ता मोनिका अग्रवाल की जनहित याचिका (सिविल)नंबर-249/2021 पर सुनवाई करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने आदेश दिए हैं कि जनहित में राष्ट्रीय राजमार्ग संख्या-44 पर सोनीपत जिला में कुंडली-सिंघू बॉर्डर पर धरनारत किसानों से एक तरफ के मार्ग पर आम लोगों को आने-जाने के लिए रास्ता दिलाया जाए।

उपायुक्त ने किसानों से बात की कि वे दिल्ली से सोनीपत/पानीपत मार्ग को इसके लिए दे सकते हैं। यह मार्ग काफी जर्जर भी हो चुका है और मरम्मत की सख्त आवश्यकता है। जर्जर होने के कारण  दुर्घटना होने की काफी संभावनाएं रहती हैं। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों की अनुपालना में आप सब किसानों का सहयोग अपेक्षित है।

उपायुक्त श्री ललित सिवाच ने कहा कि किसानों के धरने के चलते भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण (एनएचएआई) के अंतर्गत जारी राष्ट्रीय राजमार्ग-44 का निर्माण कार्य भी लंबे समय से अवरूद्ध पड़ा है, जिसके चलते लोगों को अत्यधिक असुविधाएं उठानी पड़ रही हैं। राष्ट्रीय राजमार्ग का निर्माण कार्य पूरा होने से आम जनमानस को बहुत सुविधा मिलेगी। ऐसे में यदि किसान एक तरफ का रास्ता देते हैं तो राष्ट्रीय  राजमार्ग का एक ओर का निर्माण कार्य भी जल्द पूरा हो सकेगा।

          उपायुक्त के अनुरोध पर किसान प्रतिनिधियों ने इस मामले में सकारात्मक जवाब देने का आश्वासन दिया है।

 इस बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री जशनदीप सिंह रंधावा, डीएसपी श्री विरेंद्र सिंह, डीएसपी श्री सतीश कुमार, भारत किसान यूनियन दोआबा के प्रेजीडेंट श्री मंजीत सिंह, श्री कुलदीप सिंह, श्री जगवीर सिंह चौहान, श्री बलवंत सिंह, मेजर सिंह पूनावाल, श्री मुकेश चंद्र, श्री गुरूप्रीत, श्री जोगेंद्र सिंह, श्री भूपेंद्र सिंह, श्री कुलप्रीत सिंह, श्री बलवान सिंह, श्री करतार सिंह, श्री सुभाषचंद्र सोमरा, सरदार सतनाम सिंह, श्री विक्रमजीत सिंह समेत कई किसान प्रतिनिधि मौजूद थे।

Related posts

धारुहेड़ा नगरपालिका उपचुनाव में भाजपा-जजपा ने उतारा सांझा उम्मीदवार, जानिये

kharikharinews

हरियाणा में इंटरनेशनल एयरपोर्ट को लेकर एक्शन मूड में सरकार, विधायक डॉ० कमल गुप्ता ने दी ये अहम जानकारी

kharikharinews

Why Bold Socks Are The ‘Gateway Drug’ To Better Men’s Fashion

kharikharinews

Leave a Comment