Khari Khari News
News राजनीति हरियाणा

पांचवां विधानसभा चुनाव जीतने के बावजूद 4 बार ही विधायक मानें जाएंगे अभय चौटाला, जानें क्या है वजह

कृषि कानूनों के विरोध में किसान आंदोलन के समर्थन में विधायक पद से इस्तीफा देने वाले अभय चौटाला फिर से ऐलनाबाद उपचुनाव जीतकर विधानसभा पहुंच गए हैं।यह उनके राजनीतिक जीवन का पांचवां विधानसभा चुनाव है जिसमें उन्होंने जीत दर्ज की है।

 

लेकिन इस उपचुनाव को जीतने के बावजूद वह चार बार ही विधायक मानें जाएंगे क्योंकि जीत दर्ज करने के बावजूद भी वह उसी सदन के ही सदस्य बनें है जिसमें अक्टूबर 2019 में विधायक बने थे। ऐसे में उनका वर्तमान हरियाणा विधानसभा में विधायक के तौर पर एक ही कार्यकाल माना जाएगा।

 

बता दें कि अभय चौटाला पांचवीं बार चुनाव जीत कर विधानसभा में पहुंचने वाले सबसे कम उम्र के विधायक बन गए हैं। इसी तरह के एक मामले में पहले भूतपूर्व मुख्यमंत्री दिवंगत भजन लाल भी वर्ष 2008 में 11 वीं विधानसभा के दोबारा विधायक बने थे।तब उन्होंने कांग्रेसी विधायक रहते अपनी अलग पार्टी हरियाणा जनहित कांग्रेस (हजकां) बना ली थी।

 

इस कारण उन्हें सदन से दल बदल विरोधी कानून के अंतर्गत अयोग्य घोषित कर दिया गया जिससे उनकी विधानसभा सदस्यता चली गई।उन्होंने दोबारा हजकां के टिकट पर आदमपुर विधानसभा हलके से चुनाव लड़ा और फिर विधायक बने। तब उनका 11वीं विधानसभा के दौरान एक ही कार्यकाल माना गया था।

 

Related posts

बड़ा झटका- पशु मेलों में खरीद फरोख्त पर लगेगा टैक्स, प्रत्येक व्यक्ति को देनी होगी एंट्री फीस

kharikharinews

सबसे अनोखे तरीके से किया नए साल का आगाज, समाजसेवी सतीश राज देसवाल ने परिंदों को आजाद करके मनाया नया साल

kharikharinews

हरियाणा में भ्रष्टाचार पर अंकुश लगाने के लिए अपनाई जा रही ‘जीरो टोलरेंस नीति’, जानिए

kharikharinews

Leave a Comment