Khari Khari News
News

पंजाब के 16वें मुख्यमंत्री के रुप में शपथ लेंगे चरणजीत सिंह चन्नी, 11 बजे होगा शपथग्रहण समारोह

 

पंजाब के 16वें मुख्यमंत्री के तौर पर आज चरणजीत सिंह चन्नी शपथ लेंगे। पंजाब में नये मुख्यमंत्री की ताजपोशी आज 11 बजे होगी। राज्यपाल नये मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी को शपथ दिलवाएंगे। इस दौरान कांग्रेस के कई वरिष्ठ नेता भी मौजूद रहेंगे।

पंजाब के सियासी उठापटक के बाद कैप्टन अमरिंदर सिंह का इस्तीफा हुआ और कल रविवार को गहन विचार मंथन के बाद कांग्रेस की तरफ से पंजाब के चमकौर साहिब सीट से विधायक चरणजीत सिंह चन्नी के नाम पर फाइनल मुहर लगी।

दलित नेता चरणजीत सिंह चन्नी पंजाब के नए मुख्यमंत्री होंगे। लंबे मंथन के बाद कांग्रेस हाईकमान ने चरणजीत सिंह चन्नी को विधायक दल का नेता चुन लिया है। कांग्रेस के पंजाब प्रभारी हरीश रावत ने ट्वीट कर इसकी जानकारी दी।

चरणजीत सिंह चन्नी चमकौर साहिब विधानसभा सीट से विधायक हैं और कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में तकनीकी शिक्षा और औद्योगिक प्रशिक्षण मंत्री थे। इससे पहले वह 2015 से 2016 तक पंजाब विधानसभा में विपक्ष के नेता थे। कैप्टन अमरिंदर सिंह की सरकार में 16 मार्च 2017 को 47 साल की उम्र में कैबिनेट मंत्री बनाया गया था। चमकौर साहिब सीट से चन्नी तीसरी बार विधायक हैं।

charanjeet singh channi with rahul gandhi

कुछ ऐसे तय किया पार्षद से मुख्यमंत्री तक का सफर
चरनजीत सिंह चन्नी का मोहाली के खरड़ से गहरा रिश्ता है। पढ़ाई-लिखाई के बाद उन्होंने खरड़ से ही अपना राजनीतिक जीवन एक पार्षद के रूप से शुरू किया था। खरड़ में उनके मुख्यमंत्री बनने के बाद से खुशी का माहौल है। घर पर माहौल खुशनुमा है। सारे रिश्तेदार और जानकार परिवार को बधाई देने पहुंच रहे हैं।

चरनजीत सिंह चन्नी मूलरूप से खरड़ के गांव बजौली के रहने वाले हैं। हालांकि अब वह खरड़ शहर में रहते हैं। चरनजीत सिंह चन्नी के पिता हरसा सिंह का खरड़ में टेंट हाउस था। कॉलेज समय में चन्नी अपने पिता के टेंट हाउस में उनकी मदद करते थे। इसके बाद जब स्नातक किया तो इन्होंने एक पेट्रोल पंप घनौली में खोला।

खरड़ नगर परिषद ने चन्नी ने पार्षद का चुनाव लड़कर अपने राजनीतिक जीवन की शुरूआत की थी और बड़े अंतर से जीत दर्ज की थी। तत्कालीन मंत्री हरनेक सिंह घंडूआ ने किसी अन्य को नगर परिषद प्रधान बन दिया लेकिन पांच साल बाद चन्नी प्रधान बने। वह दो बार नगर परिषद के अध्यक्ष रहे।

इसके बाद चन्नी ने चमकौर साहिब विधानसभा सीट से चुनाव लड़ने का मन बनाया और कांग्रेस से टिकट की दावेदारी की लेकिन तब उन्हें टिकट नहीं मिली। निर्दलीय चरणजीत सिंह चन्नी ने चमकौर साहिब सीट से विधासनभा चुनाव जीत दर्जकर अपने आपको साबित किया। इसके बाद अकाली दल में शामिल हुए फिर पार्टी को अलविदा कहकर कांग्रेसी हो गए। वह इस सीट से तीन बार विधानसभा चुनाव जीत चुके हैं।

पंजाब के नये मुख्यमत्री के नाम का ऐलान कर दिया गया है। हरीश रावत ने ट्वीट कर लिखा है कि पंजाब में चरणजीत सिंह चन्नी मुख्यमंत्री और विधायक दल के नेता होंगे। चरणजीत सिंह चन्नी चमकौर साहिब सीट से कांग्रेस विधायक हैं और पंजाब में दलित चेहरा है।

चरणजीत सिंह चन्नी भारत के पंजाब राज्य की चमकौर साहिब सीट से कांग्रेस के विधायक हैं।

चरणजीत सिंह चन्नी
पंजाब मुख्यमंत्री
कार्यकाल
2021 सितंबर से पदस्थ
विधायक-चमकौर साहिब, पंजाब, भारत
कार्यकाल
सितंबर से पदस्थ
जन्म    1 मार्च 1963 (आयु 58)
खरार, मोहाली
राष्ट्रीयता    भारतीय
राजनीतिक दल    भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस

It gives me immense pleasure to announce that Sh. #CharanjitSinghChanni has been unanimously elected as the Leader of the Congress Legislature Party of Punjab. @INCIndia @RahulGandhi @INCPunjab

 

Charanjit Singh Channi is appointed as the Chief Minister of Punjab after the resignation of Capt. Amrinder Singh. He is an Indian National Congress CM from Punjab. He was a former Minister of Technical Educational & industrial Training in the Punjab government.

On 19th Sep,2021, he became Chief Minister of Punjab after resignation of Captain. Sh Amrinder Singh. He is the MLA from the Chamkaur Sahib Assembly Constituency. Previously, he was the leader of opposition in the Punjab Vidhan Sabha from 2015 to 2016. He succeeded Sunil Jakhar and was succeeded by H. S. Phoolka

He belongs to the Ramdasia Sikh community and was appointed as cabinet minister in Capt. Amrinder Singh cabinet, Punjab on 16 March 2017 at the age of 47. 3rd time MLA from Chamkaur Sahib Consistency & Minister of “Technical Education & Industrial Training” in Capt. Amrinder Singh’s Cabinet.

Charanjit Singh Channi has been chosen as the 16th Chief Minister of Punjab on 19th September, 2021, India after the resignation of Capt. Amrinder Singh from the Cabinet.

 

Loading tweet…

 

Related posts

बिजली चोरी पकड़ने गई बिजली विभाग की टीम पर लोगों ने किया हमला, घर में ही बनाया बंधक

kharikharinews

मात्र 500 रूपए में आपका होगा Jio का ये 4G स्मार्टफोन, जल्द होने वाला है लॉन्च

Mukesh Gusaiana

अंशु मलिक को रजत पदक, सरिता मोर को कांस्य पदक, विश्व चैम्पियनशिप में भारतीय महिला पहलवानों का दबदबा

Mukshan Verma

Leave a Comment